ऐतिहासिक बीकानेर की झलक – १

ऐतिहासिक बीकानेर की झलक – १

मेरे पति को किसी ज़रूरी काम से बीकानेर लगभग पंद्रह दिन के लिये जाना था। स्कूल की छुट्टियाँ न होने…

Read More →
ऐतिहासिक बीकानेर की झलक – २

ऐतिहासिक बीकानेर की झलक – २

पिछले अंक में आप सभी ने जयपुर से बीकानेर तक की यात्रा का आनन्द लिया, उसके बाद लक्ष्मीनाथ मंदिर के…

Read More →
ऐतिहासिक बीकानेर की झलक – ३

ऐतिहासिक बीकानेर की झलक – ३

हमने अब तक बीकानेर में लक्ष्मीनाथ, करनी माता मंदिर एवं जूनागढ़ क़िला और संग्रहालय देखा। इसके बाद गजनेर पैलेस की…

Read More →
वास्तविक परी

वास्तविक परी

मधुरिमा के सरल समाधानों ने उसे एक वास्तविक परी का रूप दिया। मधुरिमा १३ वर्ष की आठवीं कक्षा से उत्तीर्ण…

Read More →
रुद्र की लेह-लद्दाख यात्रा

रुद्र की लेह-लद्दाख यात्रा

रुद्र की लेह-लद्दाख यात्रा बहुत ही मनोरंजक रही। उसने वहाँ के बारे में बहुत कुछ जाना। रुद्र की जिद्द पर…

Read More →
सिंहासन बत्तीसी – कहानी पुतली प्रियदर्शनी की

सिंहासन बत्तीसी – कहानी पुतली प्रियदर्शनी की

सिंहासन बत्तीसी के अगले भाग में राजा विक्रमादित्य की दानवीरता की कहानी सुनिए। अट्ठारहवे दिन राजा भोज पुनः नया उत्साह…

Read More →
महान गणितज्ञ – रामानुजन

महान गणितज्ञ – रामानुजन

अद्भुत प्रतिभाशाली व्यक्ति विशेष, सौभ्य व्यवहार के गुणों से भरे हुये, आँखों की चमक से कुशाग्रता थी झलकती, ग़रीबी को…

Read More →
बालक शंकर

बालक शंकर

आइये, आठवीं सदी में एक गरीब ब्राह्मण परिवार में पैदा हुए बालक शंकर की कहानी सुनिए। आज एक अक्टूबर है।…

Read More →
हरियाली की ओर

हरियाली की ओर

इस लेख से आप हरियाली की ओर बढ़ने के लिए प्रेरित होंगे! जब से जीवन का आरंभ हुआ है, तब…

Read More →
जब मैं कार बनाऊँगा

जब मैं कार बनाऊँगा

मैं जब बड़ा हो जाऊँगा, एक ऐसी कार बनाऊँगा, सड़क पर वह इतनी तेज़ चलेगी, सबसे आगे निकल जायेगी, पानी…

Read More →
जो होता है,  भले के लिए होता है

जो होता है, भले के लिए होता है

वैभव स्कूल से लौटा, तब उसका चेहरा तमतमाया हुआ था।  उसने किसी से कोई बातचीत नहीं की, सीधे अपने कमरे…

Read More →
दिव्य

दिव्य

स्कूल के बाद जब बच्चे कॉलेज में जाते हैं तो ये किसी चमत्कार से कम नहीं लगता। जैसे बहुत बड़े…

Read More →
छोटी सी नन्ही, बड़ी सी उड़ान

छोटी सी नन्ही, बड़ी सी उड़ान

First published in December 2016 edition नीलवन कश्मीर की वादियों में स्थित एक घना जंगल था।  नीलवन में कई तरह…

Read More →
Nurturing Nature

Nurturing nature

The class has been given an assignment to grow a plant at home and take care of it. Find out…

Read More →
विक्की बदल गया

विक्की बदल गया

“मम्मी, मेरा बेल्ट नहीं मिल रहा है”, विक्की ने ज़ोर से आवाज़ लगायी। वह स्कूल जाने के लिए तैयार हो…

Read More →
How Ajanta Was Embarrassed By Her Untidiness

How Ajanta was embarrassed by her untidiness

Ajanta does not clean her room at all. One day, she is embarrassed by her untidiness when she is visited by a…

Read More →
जादूई जूते – १०

जादूई जूते – १०

वेंकू, रुहिन, तनुष और आशीष ने जाना की जादुई जूते उनकी अपनी शक्ति का प्रतीक थे। प्रात: काल के अखबार…

Read More →
श्रवण कुमार सा…

श्रवण कुमार सा…

क्या आजकल बच्चे श्रवण कुमार से होते हैं? अगर नहीं, तो उन्हें कैसे आदर और बड़ों की सेवा करना सिखाया…

Read More →
Better To Be Safe Than Sorry

Better to be safe than sorry

"With my Spidey senses, super strength And fists of fire, Mumma, I am unstoppable!" 7 year old exclaimed. "Well then…

Read More →
Keep Yourselves Safe

Keep yourselves safe

It’s time for you to learn some safety rules, To be followed at your homes and schools. Don’t play with…

Read More →
भावनात्मक बुद्धिमानी

भावनात्मक बुद्धिमानी

क्या आप में  भावनात्मक बुद्धिमानी है? आइये  जानते हैं।   First published in July 2016 हम सब ‘बुद्धिमानी’ शब्द के लिए…

Read More →
Munmun Batak And Lazy Tommy: Hard Work Pays Off

Munmun Batak and lazy Tommy: hard work pays off

Munmun Batak the wise duck in Kalpanaland thought of a clever way to explain to lazy Tommy that hard work…

Read More →
अधूरे सपने

अधूरे सपने

बरखा ने घर की जिम्मेदारियाँ संभालने में अपने अधूरे सपने पूरे नहीं किए। उनके बेटे और बहू ने उनकी इच्छा…

Read More →
रंग संहिता

रंग संहिता

First published in November 2016 महानायक कलरमैन एक बुरे व्यक्ति को पकड़ने के लिए आकाश में उड़ रहा था। तभी…

Read More →
अक्ल बड़ी या भैंस – १

अक्ल बड़ी या भैंस – १

रोहन अपनी माँ को ‘अक्ल बड़ी या भैंस’ से हुए स्कूल के विवाद के बारे में बताता है। उस विवाद…

Read More →
बच्चे होते आँखों के तारे

बच्चे होते आँखों के तारे

छोटे हुये तो क्या हुआ, सबकी आँखों के हैं तारे, दादी, दादी, नाना और नानी के हम सब है दुलारे,…

Read More →
उत्साह के कदम

उत्साह के कदम

उत्साह के साथ तू काम कर, असफलता से न कभी भी डर, जग में रह कर अपना नाम कर, डटा…

Read More →
The Career I Chose

The career I chose

The career I chose The favourite question of any adult in this whole wide world is, So what are you…

Read More →
उत्तर-ध्रुवीय और दक्षिण-ध्रुवीय रोशनी का रहस्य

उत्तर-ध्रुवीय और दक्षिण-ध्रुवीय रोशनी का रहस्य

कुछ प्राकृतिक घटनाएं हैं जो सदियों से मनुष्यों में जिज्ञासा पैदा कर रही हैं। उनमें से बहुत सी घटनाओं का…

Read More →
Mystery: A Poem

Mystery: a poem

How many stars are there in the sky? What lies in the space and beyond? At times you must have…

Read More →
सुखद यात्रा – २

सुखद यात्रा – २

पिछले अंक में आपने पढ़ा कि रेवान्त का परिवार एक सुखद यात्रा पर मेरठ होते हुए हरिद्वार - ऋषिकेश जा…

Read More →
रहस्य का ज्ञान

रहस्य का ज्ञान

खचाखच भरे सभागार में जैसे ही वक्ता ने बोलना शुरू किया कि वहाँ शांति छा गई। बच्चे ध्यान से उन्हें…

Read More →
चिंटू की साइकिल  – साइकिल की खोज

चिंटू की साइकिल – साइकिल की खोज

चिंटू और उसके दोस्त बारिश के मौसम से परेशान हो चुके थे। इतनी बरसात हो रही थी कि उन्हें साइकिल…

Read More →
Little Wooden Trunk

Little wooden trunk

Sasha's parents had a little wooden trunk in their room. She was never allowed to open the trunk, but can…

Read More →
व्यसन का मनोविज्ञान

व्यसन का मनोविज्ञान

हम सब जानते हैं कि व्यसन हमारे लिए हानिकारक होता है और हमें इससे हर हाल में बचना चाहिए। किन्तु…

Read More →
चॉकलेट्स

चॉकलेट्स

First published in February 2016 करन चौथी कक्षा में पढ़ने वाला एक बच्चा था। एक दिन वह अपनी कक्षा में…

Read More →
पारस

पारस

First published in February 2016 करीब ३० साल पहले की बात है। मध्य प्रदेश के भोपाल शहर में श्रीमान उदय…

Read More →
‘पेशे’ का अभिव्यक्ति से सम्बन्ध

‘पेशे’ का अभिव्यक्ति से सम्बन्ध

पारुल अपने मातापिता की अकेली बच्ची थी। बेहद शांत, पढ़ने में होशियार, आदत और व्यवहार से उत्तम। धीरे-धीरे जब कोई…

Read More →
नयी दिशाएँ

नयी दिशाएँ

रिक्की जब गरमियों की छुट्टी के बाद स्कूल गया तो इतना तरोताजा और उत्साहित था कि किसी के बिना जगाए…

Read More →
स्वर्ग नर्क

स्वर्ग नर्क

आज नर्क के अन्दर एक बवाल-सा मचा हुआ था। चारों ओर धरना प्रदर्शन, नारेबाजी, शोर और अराजकता का बोलबाला था।…

Read More →
मेरी प्रेरणा – मेरी दीदी

मेरी प्रेरणा – मेरी दीदी

बधाइयाँ स्वीकार करते-करते अभयदेव का गला सूख गया। जिलाधिकारी का कार्यभार ग्रहण करने आफिस पहुँचे, तो वहाँ लोगों की भीड़…

Read More →
भारत रत्न

भारत रत्न

अर्जुन ने सिर पर बंधा तौलिया कुर्सी पर पटका और बड़बड़ाते हुए जूते उतारने लगा। “का हुआ रहा भैया? इतने…

Read More →
जय जवान जय किसान

जय जवान जय किसान

शास्त्री जी का नारा है हम सबको प्यारा इसको समझना है आसान जय जवान जय किसान जो है अन्न उगाता…

Read More →
शहीदी कुआं

शहीदी कुआं

“अरे! सुमित तुम कहाँ चले गए थे यार! मैं तो तुम्हारे बिना परेशान हो गया था”, अरुण ने सुमित को…

Read More →
झटके ने फोड़ा चिंता – बोझ का मटका

झटके ने फोड़ा चिंता – बोझ का मटका

राधिका को नौकरी करते हुए चार साल हो गए थे। विद्यालय के बाद महाविद्यालय का अलग तज़ुर्बा रहा। लेकिन नौकरी…

Read More →
सिंहासन बत्तीसी – कहानी पुतली प्रभावती की

सिंहासन बत्तीसी – कहानी पुतली प्रभावती की

दसवें दिन राजा भोज पुन: सिंहासन पर बैठने हेतु राजमहल पहुंचे किन्तु ज्यों ही उन्होनें सिंहासन पर बैठना चाहा, दसवीं…

Read More →
चतुर कौए का चतुर बेटा

चतुर कौए का चतुर बेटा

एक जंगल में कोको नाम का एक कौआ रहता था। उसकी बहुत सारे पक्षियों से दोस्ती थी। जंगल में एक…

Read More →
चिंटू की साइकिल

चिंटू की साइकिल

आज चिंटू का जन्मदिन था और उसके पापा ने उसे नई साइकिल तोहफे में दी थी। वह अपने तोहफ़े से…

Read More →
अपहरण – २

अपहरण – २

पिछले अंक में आपने पढ़ा कि शम्भवी परीक्षा के बाद घर नहीं लौटी। अब आगे पढ़िये। धीरे-धीरे शाम हो गई।…

Read More →
राष्ट्रपिता प्यारे बापू

राष्ट्रपिता प्यारे बापू

बापू मेरे प्यारे बापू, बहुत याद आते हो बापू। सादा जीवन उच्च विचार को आपने अपनाया, जातिवाद रंगभेद के ख़िलाफ़…

Read More →
ड्रैगन का सामना

ड्रैगन का सामना

छोटे-छोटे मोतियों की तरह पसीना उसके चेहरे से नीचे की तरफ फिसलने लगा। उसने ध्यानपूर्वक देखा। सामने खड़ा ड्रैगन बहुत…

Read More →
अपहरण – १

अपहरण – १

रतनपुर गाँव शाहाबाद से लगभग आठ किलोमीटर दूर है। गांव में एक प्राइमरी स्कूल है, जो राम भरोसे चलता है।…

Read More →
अदृश्य पत्थर

अदृश्य पत्थर

स्वतन्त्रता दिवस की पूर्व संध्या पर ईशिका के विद्यालय में बहुत बड़े कार्यक्रम का आयोजन किया गया था। सभी छात्र…

Read More →
सिंहासन बत्तीसी – कहानी पुतली पुष्पवती की

सिंहासन बत्तीसी – कहानी पुतली पुष्पवती की

आठवें दिन प्रात: स्नानादि कार्यों से निवृत होकर राजा भोज पुन: सिंहासन पर बैठने की लालसा मन में लेकर राजभवन…

Read More →
महान विद्वान रामानुजन

महान विद्वान रामानुजन

अध्यापिका ने अपनी कक्षा में छात्रों से उस व्यक्ति के बारे में लिखने को कहा जिसने उन्हें प्रेरित किया हो।…

Read More →
आज का बीरबल

आज का बीरबल

दीपक को कहानियाँ पढ़ने का बहुत शौक था। उसे जब भी वक़्त मिलता वह कोई नयी पुस्तक पढ़ने लगता। उसके…

Read More →
Kidnap

Kidnap

Anjali, a smart sixth grade student, got one of the trendiest smartphones in town as her birthday gift. A proud…

Read More →
चूइंग गम की लत

चूइंग गम की लत

चूइंग गम की ओर प्रेम व लालसा! क्या यह हानिकारक नहीं है? कल्पना करिए कि आप अपने मित्रों के साथ…

Read More →
32 Stories Of The Throne – The Story Of Statue Pushpwati

32 stories of the throne – The story of Statue Pushpwati

On the eighth day, after getting free from his daily chores, once again King Bhoj reached the royal court with…

Read More →
माली

माली

हाँ, मैं गौरवान्वित हूँ कि मैं युवा हूँ और अपने पारंपरिक पारिवारिक व्यवसाय में हूँ। मैं यह नहीं कह रहा…

Read More →
The Magic Bag

The magic bag

Ravi walked home from school with tears rolling down his face. Rajesh and his friends had teased him again because…

Read More →
प्यासा भूत

प्यासा भूत

गर्मियों के दिन थे। कुनाल पार्क में खेलने जाने के लिए तैयार हो रहा था। वह हाथ मुँह धोने के…

Read More →
जादू की छड़ी

जादू की छड़ी

सुबह-सुबह सचिन के कमरे से आते शोरशराबे से यात्रा से थकी हुई यशोदा की नींद खुल गई। कमरे में जाकर…

Read More →
कर्तव्यनिष्ठता

कर्तव्यनिष्ठता

ये बात गर्मियों की छुट्टियों की है। आकाश अपने स्कूल से दिल्ली घूमने गया था। उसके घनिष्ठ मित्र श्याम, हरीश…

Read More →
लाइ-डिटेक्टर

लाइ-डिटेक्टर

अजय और विजय की गर्मी की छुट्टियां शुरू हो गई थी। आठवीं व दसवीं में पढ़ने वाले दोनों भाई काफी समझदार…

Read More →
ईद-मुबारक

ईद-मुबारक

रौनक़ उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ जिले में अपने मम्मी-पापा के साथ रहता था। उसके पापा, जिनका नाम रज़ा था, चूड़ियों…

Read More →
बापू का बैग

बापू का बैग

सर ने सुधीर को आज फिर डांटा कि यदि वह कल से बैग में किताबें रख कर नहीं लाया तो…

Read More →
सिंहासन बत्तीसी – कहानी पुतली लीलावती की

सिंहासन बत्तीसी – कहानी पुतली लीलावती की

पांचवे दिन, पुतली लीलावती सिंहासन से प्रकट हुई और राजा भोज से बोली, “विराजने से पहले राजा विक्रमादित्य की निर्णय…

Read More →
Adventures Of Aquina: Going Underground

Adventures of Aquina: going underground

Life was fun. As a water droplet of a mountain stream, Aquina flowed down swiftly. He liked to make splashing…

Read More →
दृष्टिकोण

दृष्टिकोण

आज श्रीमती विभा शर्मा के घर एक शानदार पार्टी का आयोजन किया गया था। उनका बेटा वैभव देश के प्रतिष्ठित…

Read More →
पेड़ – सच्चा मित्र

पेड़ – सच्चा मित्र

पेड़ अपने जन्म से ही समय की मार को झेलते आए हैं और अनेक पीढ़ियों की आवश्यकताओं, जैसे फल-फूल व…

Read More →
स्वामी विवेकानंद

स्वामी विवेकानंद

जब भारत के एक भिक्षु ने विश्व की धर्म संसद में “अमेरिका के बहनों और भाइयों” इस सम्बोधन के साथ…

Read More →
मोरनी की अनोखी दुनिया

मोरनी की अनोखी दुनिया

नित्या आज अपने स्कूल की नयी स्कूल–कैप्टेन चुनी गयी थी। प्रिन्सिपल सर ने स्वयं पूरे स्कूल के सामने उद्घोषणा की…

Read More →
पर हित सरिस धरम नहीं कोय

पर हित सरिस धरम नहीं कोय

आज छुट्टी का दिन है। मालिनी सुभद्रा से नजरें चुराते इधर उधर छिपती फिर रही है। सुभद्रा आज जरूर उसे…

Read More →
बेटी

बेटी

कमरे से निरंतर कराहने की आवाज़ें आ रही थी। धीरे–धीरे उनकी तीव्रता बढ़ती जा रही थी। कराहटों का असर रामदेवी…

Read More →
लिंग भेद, विचार विमर्श

लिंग भेद, विचार विमर्श

ईश्वर ने धरती का निर्माण आरम्भ किया। धरती के अंग, पहाड़, नदियाँ, समुद्र आदि बनाए। सूर्य, चंद्र, तारे और साथ…

Read More →
नशे के सौदागर (भाग-१)

नशे के सौदागर (भाग-१)

देश के एक महत्वपूर्ण कस्बे के ख़ास चौराहे पर मेरा एक छोटा सा ढाबा था। यह कस्बा महत्वपूर्ण इसलिये था…

Read More →
भारत में डाइनोसौर का राजा – राजसौरस

भारत में डाइनोसौर का राजा – राजसौरस

एक समय भारत में एक महान राजा रहता था। उसका विशाल राज्य नर्मदा नदी की घाटी तक विस्तृत था। वह…

Read More →
रुपया रुपया

रुपया रुपया

कक्षा आठ ए में जब सामान्य ज्ञान के पीरियड में आनन्द सर आये तो वे बोले कि आज वे कुछ…

Read More →
मेला सूरज कुंड

मेला सूरज कुंड

हमारा देश भारत गावों का देश है। यहाँ प्रतिदिन कोई न कोई उत्सव, त्योहार होता है। प्राचीन समय में त्योहारों…

Read More →
सिंहासन बत्तीसी – कहानी तीसरी पुतली चन्द्रकला की

सिंहासन बत्तीसी – कहानी तीसरी पुतली चन्द्रकला की

तीसरे दिन, राजदरबार में बैठे हुये सभी सम्मानीय लोगों के आगे रखे सिंहासन पर बैठने के लिए जब राजा भोज…

Read More →
ज़हर में अमृत

ज़हर में अमृत

डॉ अश्वनी की बीवी की मृत्यु अचानक हो गई, जब उनकी बेटी अनुष्का मात्र ७ वर्ष की थी। उन्होंने अनुष्का…

Read More →
जादुई जूते – मिशन २

जादुई जूते – मिशन २

आए दिन आतंकवादियों के द्वारा निर्दोष लोगों की हत्या से सारा भारतवर्ष परेशान था। खोज बीन से यही जानकारी उभर…

Read More →
भोलू का सच

भोलू का सच

परीक्षा के दिन नज़दीक आ रहे थे और भोलू के प्राण ऊपर नीचे होना शुरू हो गए थे। यह उसकी…

Read More →
लोकत्रंत्र का प्रयोग

लोकत्रंत्र का प्रयोग

७०वें दशक की बात है। उस समय हर शहर में सरकारी विद्यालय सबसे उच्च कोटि के होते थे। बहुत बड़ी इमारत…

Read More →
गरमी की छुट्टी

गरमी की छुट्टी

फिर से गरमी की छुट्टियाँ आयेंगी, नानी के घर जाने की तैयारी होगी, वहाँ लाड़ प्यार खूब जम कर होगा,…

Read More →
पाठी बाबाजी का चमत्कार

पाठी बाबाजी का चमत्कार

परीक्षाएं नज़दीक आ रही थीं इसलिये मानसी ने पढ़ाई पर ज़ोर बढ़ा दिया था। आजकल वह ज़्यादातर समय कुछ पढ़ते-लिखते…

Read More →
होली की इंद्रधनुषी ख़ुशियाँ

होली की इंद्रधनुषी ख़ुशियाँ

होली के समय में चारों तरफ रंग-बिरंगे रंगो की बरसात हो रही थी। मौसम को देखकर ऐसा लगा कि पशु-पक्षी…

Read More →
32 Stories Of The Throne – The Story Of Statue Chandrakala

32 stories of the throne – The story of statue Chandrakala

On the third day, as soon as King Bhoj stepped forward to sit on the throne kept in front of…

Read More →
नाज़ुक बातें

नाज़ुक बातें

इस समय मैं सिर्फ नौ महीने की हूँ और धूप में बिना किसी बचाव के अपनी नाज़ुक जड़ों पर खड़े…

Read More →
सफलता का शिखर

सफलता का शिखर

विश्वविद्यालय का दीक्षान्त समारोह है। विशालकाय  सभागार ठसाठस भरा हुआ है। डिग्री पाने वाले सभी छात्र-छात्रों के चेहरों पर प्रसन्नता…

Read More →
रक्त दान – महा दान

रक्त दान – महा दान

पुराने कीचड़, काई से भरे तालाब के चारों तरफ कूड़े का ढेर था। मच्छरों का उत्तम निवास स्थान था। एक…

Read More →
डिजिटल सुरक्षा की लक्षमण रेखा

डिजिटल सुरक्षा की लक्षमण रेखा

नैना की मौसी ने उसे डिजिटल सुरक्षा के बारे में बताया।  First published in February 2017 नैना के माता पिता,…

Read More →
गणतंत्र दिवस और वीरता पुरस्कार

गणतंत्र दिवस और वीरता पुरस्कार

आज हम आपको वीरता और साहस के लिये मिलने वाले पुरस्कार के बारे में बताते है। यह पुरस्कार ६ से…

Read More →
The Wiggly Brown Thing

The wiggly brown thing

Shreya and Shruti were floating paper boats in the small puddle that had formed in front of their Nani’s house. Shreya…

Read More →
चिराग

चिराग

पढ़ाते–पढ़ाते इतने साल हो गए फिर भी हर साल नए उत्साह और जोश से शुरू होता है। लोग अक्सर पूछते…

Read More →
Munmun Batak And Monu Mrig

Munmun Batak and Monu Mrig

Once upon a time in Kalpanaland, there lived a young fawn called Monu Mrig. He was so smart that he…

Read More →
कालदर्शकों की कहानी

कालदर्शकों की कहानी

नन्ही पलक बड़ी उत्साहित थी। वह बड़ी उत्सुकता से नववर्ष की प्रतीक्षा कर रही थी। पंचांग में देखना और बचे…

Read More →
Pilkhan – Ficus Virens

Pilkhan – Ficus Virens

Observing nature is very interesting as it teaches a great many things in the natural way.  Travelling around the city…

Read More →
मासूम सी बात

मासूम सी बात

पीहू चार साल की छोटी सी बच्ची थी। वह अपने मम्मी पापा की बड़ी लाडली थी। पीहू के पापा का…

Read More →
सेंटाक्लाज

सेंटाक्लाज

“मम्मी आज मैम ने सेंटाक्लाज के बारे में बताया। आप जानते हो वह क्या होता है? वह सब बच्चों को…

Read More →
खिलौनेवाली

खिलौनेवाली

मुर्गे की लंबी बांग, चिड़ियों की चहचहाट, ठंडी हवा का झोंका, सभी को निद्रा से उठाने की कोशिश कर रहे…

Read More →
राष्ट्र गान

राष्ट्र गान

जैसे एक राष्ट्रीय ध्वज किसी भी देश के लिए बहुत महत्वपूर्ण है, वैसे ही राष्ट्र गान भी है। शब्दकोश में…

Read More →
गाज़ियाबाद के पन्ने

गाज़ियाबाद के पन्ने

हिरण्मई और भानुप्रिया कुछ दिनों के लिए अपने नाना-नानी के पास गाज़ियाबाद आई हुई थीं। गाज़ियाबाद में उन्होने कई छुट्टियाँ…

Read More →
अपने – पराए

अपने – पराए

नन्द लाल ने इस साल अपने छोटे भाई के दोनों बच्चों को अपने पास शहर बुला लिया था। बेटा सुरेश…

Read More →
अहंकार भी सिखाता है

अहंकार भी सिखाता है

(कहानी के सन्दर्भ में - अहंकार स्वयं पैदा नहीं होता। अनजाने में,  साधारण सी जिंदगी में, अहंकार का जन्म अनुचित…

Read More →
The New Member

The new member

There was great excitement in the air in the Bedi household. There was going to be an addition in the…

Read More →
कृष्ण जन्म अष्टमी

कृष्ण जन्म अष्टमी

भगवान कृष्ण का जन्म भद्रमास के कृष्ण पक्ष की अष्टमी को प्रति वर्ष मनाया जाता है। उनका जन्म मथुरा की…

Read More →
Munmun Batak And The Khargosh Brothers

Munmun Batak and the Khargosh brothers

Once upon a time in Kalpanaland, there lived a wise duck called Munmun Batak. All the animals came to seek…

Read More →
देशप्रेम

देशप्रेम

चाहे हम अपने ही देश में हो या विदेश में , हमें अपने देश के प्रति लगाव हमेशा रहता है।…

Read More →
मैं बड़ी हो गई हूँ – १

मैं बड़ी हो गई हूँ – १

क्या हो गया है इस लड़की को, मैं सोचने लगी। यकीन नहीं होता कि यह वही संजना है जो मेरे…

Read More →
मेरी ख़ुशी – २

मेरी ख़ुशी – २

अभी तक आपने जो पढ़ा उस पर हल्की सी नज़र डाल लेते हैं। ख़ुशी प्रकृति की गोद में पली थी,…

Read More →
Munmun Batak And Naughty Mooshak

Munmun Batak and naughty Mooshak

Munmun Batak was the wisest duck in all of Kalpanaland. People from far-far away came to meet her and ask…

Read More →
भूल सुधार

भूल सुधार

आज अमन बेहद खुश था क्योंकि आज पापा ने उसकी फ़रमाईश पूरी कर दी थी। पापा उसके लिए एक नन्हा…

Read More →
सुख का दान – सुखदा

सुख का दान – सुखदा

चौधरी शंभूदयाल कस्बा नूरपुर के जाने माने आसामी थे। बढ़िया खेत-खलिहान, पक्का घर, सारी सुख सुविधायें थी। सन ५५-५६ की बात…

Read More →
Doll Birthday Party

Doll birthday party

The summer vacations of the clever four were coming to an end. In a few days Durga and Naveen were…

Read More →
The Clever Four

The clever four

The summer vacations were on. Hiranmayi enjoyed reading books. These days she was engrossed in an English book titled ‘Secret…

Read More →
मेरी ख़ुशी – १

मेरी ख़ुशी – १

ख़ुशी…यह लड़की नदियों के साथ खेलती है, पर्वतों के साथ बातें करती है, बादलों के साथ नाचती है, पवन के…

Read More →
प्रकाशदाता

प्रकाशदाता

बच्चों, अन्धेरे से तो सबको डर लगता है, हैं ना? हमारे घरों में, स्कूलों में, सडकों पर, हर जगह बिजली…

Read More →
भूतों का रहस्य

भूतों का रहस्य

गर्मी की छुट्टियों में अनंत अपने पिता के साथ अपने पैतृक गाँव गया था। ग्रामीण जीवन से उसका यह पहला…

Read More →
कोल्हू का बैल

कोल्हू का बैल

अमित अपनी छुट्टियों में गाँव जाने के लिये बहुत उत्साहित और दादाजी से मिलने के लिये बैचेन रहता है। वह अपने मम्मी…

Read More →
नैतिक मूल्य

नैतिक मूल्य

अंजन ने प्रधानमंत्री को नैतिक मूल्य का महत्व समझाया।  अंजन पैदल चलता हुआ अपने घर पहुँचा, ताला खोला और अन्दर आया।…

Read More →
The Human Touch – II

The Human Touch – II

My experiences with the truth of human behaviour during the fall season were subsiding gradually and I had started looking…

Read More →
जन्म दिन का उपहार

जन्म दिन का उपहार

“माँ आज मैं स्कूल नहीं जाऊंगा”, निरूपम ने कहा। “क्यों नहीं जाओगे?” सविता ने लंच बौक्स बैग में डालते हुए…

Read More →
संगत भाग – 2

संगत भाग – 2

अब तक आपने पढ़ा - शर्मा जी का पोता चिराग पढ़ाई लिखाई में बिलकुल मन नहीं लगा रहा था। उसके…

Read More →
चमत्कारी जिन्न

चमत्कारी जिन्न

अजीत का परिवार बहुत ही ग़रीब था। अजीत की उम्र नौ साल की होने पर भी वह अभी तक स्कूल…

Read More →
किराया

किराया

अभी गर्मी के मौसम की शुरुआत ही हुई थी। एक कबूतर और कबूतरी का जोड़ा कनक-वन में अपना बसेरा डालने…

Read More →
संगत

संगत

गाज़ियाबाद के एक रिहायशी इलाके राजनगर में तीन घनिष्ठ मित्र रहते थे। आस-पास के लोग उन्हें शर्मा जी, वर्मा जी…

Read More →
दो सैनिकों की कहानी

दो सैनिकों की कहानी

अयप्पा पूरे जी जान से भाग रहा था। उसे प्रथम आना था। श्याम सुंदर उससे आगे था। अयप्पा ने अपना…

Read More →
मानवीय स्पर्श

मानवीय स्पर्श

मैं पिछले ८ सालों से अपनी २५ फुट ऊँची हरीभरी छत्रछाया की छाँव दुनिया को देते हुये, मैं जामुन के…

Read More →
ज्वालामुखी – चलो!  प्रकृति के रहस्यों को जानें

ज्वालामुखी – चलो! प्रकृति के रहस्यों को जानें

ज्वालामुखी पृथ्वी की ऊपरी परत में एक निकास द्वार है जिसमें से पृथ्वी की सतह के नीचे से लावा, गैस…

Read More →
पक्षियों का प्रवास

पक्षियों का प्रवास

पक्षियों के बिना आसमान अधूरा है। आकाश में रचना में उड़ते हुए पक्षियों का झुंड एक बहुत ही प्रेरणादायक दृश्य…

Read More →
रोमांचक यात्रा

रोमांचक यात्रा

अन्नी एक रोमांचक यात्रा पर जाता है, जो उसे समुद्र के अंदर का दृश्य दिखाती है।  अन्नी विशाखापट्नम के डोलफिन नोज़ बीच…

Read More →
अजेय शक्ति

अजेय शक्ति

एक बरगद का बहुत पुराना पेड़ था। उसकी शाखाओं पर अनेक पक्षियों ने अपने घोंसले बना रखे थे। बरगद के…

Read More →
इला का ख्वाब – 1

इला का ख्वाब – 1

पैथान के निकट सौविग्राम नामक गाँव था, जो गोदावरी नदी के निकट था। वहाँ इला रहती थी। सूत के किसान होने के…

Read More →
Loading...