गुरुदक्षिणा

गुरुदक्षिणा

रमन को गुरुदक्षिणा पर एकाँकी लिखनी थी। उसने सोचा की एकलव्य की कहानी को छोड़कर, किसी दूसरी कहानी पर लिखा…

Read More
सच्ची दोस्ती

सच्ची दोस्ती

सक्षम ने मोहन से सच्ची दोस्ती का मतलब जाना। मोहन एक बहुत ही होनहार छात्र था। बड़ों का आदर करना,…

Read More
चित्रांगदा और जलपरी रूही

चित्रांगदा और जलपरी रूही

चित्रांगदा एक नयी दोस्त बनती है, जलपरी रूही, जो उसकी मदद करती है। चित्रांगदा किशनगढ़ के राजा विक्रम सिंह की…

Read More
मदद, सेवा का दुष्कर्म से सम्बन्ध

मदद, सेवा का दुष्कर्म से सम्बन्ध

नवीन ने सेवा और मदद में अंतर सीखा। नवीन ने गृह कार्य के लेख-निबंध से सम्बंधित प्रस्तुति देखी। विषय था…

Read More
जादुई जूते – भाग १

जादुई जूते – भाग १

इस शृंखला के पहले भाग में पढ़िये कि वैंकू, तनुष, रुहिन, आशीष और जैनी को जादुई जूते कैसे मिले।  First…

Read More
पहला सफर

पहला सफर

रमन ने रेल में कभी सफर नहीं किया था। उसे नहीं पता था कि उसका पहला सफर किसी के भले…

Read More
एक जन्मदिन ऐसा भी – अंगदान

एक जन्मदिन ऐसा भी – अंगदान

विनय अपने दोस्त अमन के घर गया। उसके दोस्त की दुर्घटना में मृत्यु हो गयी थी। पर अमन अभी भी…

Read More
विस्मरणीय सत्य

विस्मरणीय सत्य

रेनू की माँ ने अंधविश्वासों को सत्य से दूर किया।  “माँ! माँ, जल्दी आओ, चांदनी मर गयी! माँ….”, रेनू की…

Read More
रोमांचक यात्रा

रोमांचक यात्रा

अन्नी एक रोमांचक यात्रा पर जाता है, जो उसे समुद्र के अंदर का दृश्य दिखाती है।  अन्नी विशाखापट्नम के डोलफिन नोज़ बीच…

Read More
Loading...