अंजलि की पसंदीदा हीरोइन

अंजलि की पसंदीदा हीरोइन

अंजलि ने जब अपनी पसंदीदा हीरोइन के बारे में बताया, तो सबने उसके साथ दिया। आज हिन्दी की अध्यापिका स्कूल…

Read More
बुजुर्गों का सुख सदन

बुजुर्गों का सुख सदन

हमें अपने बुजुर्गों का सुख बनाए रखने के लिए उन्हें आदर और समय देना चाहिए। सुख और खुशी के दिन…

Read More
आधुनिक सिंड्रेला

आधुनिक सिंड्रेला

आज की आधुनिक सिंड्रेला बुद्धिमान है। उसे सफल होने के लिए किसी राजकुमार की ज़रूरत नहीं। “आज तो तुम गजब…

Read More
अच्छा व्यवहार

अच्छा व्यवहार

आनंद ने सीखा की अच्छा व्यवहार क्यूँ ज़रूरी है। आनंद एक बहुत ही शरारती बच्चा था। वह कभी भी किसी…

Read More
लाडला

लाडला

गोलू का नया दोस्त पिंटू अपने बड़ों का लाडला था, इसलिए उनका आदर करना नहीं जानता था।  First published in…

Read More
शरारत का पुराना केक

शरारत का पुराना केक

रवि ने सीखा की जरूरत से ज्यादा शरारत नहीं करनी चाहिए।   First published in February 2017 रवि एक शरारती लड़का…

Read More
भारतीय सेना की अनोखी तहज़ीब

भारतीय सेना की अनोखी तहज़ीब

ईशा अपने मामाजी के घर छुट्टियाँ बिताने आई थी। वो भारतीय सेना की अनोखी ज़िंदगी देखकर प्रेरित हुई। ‘रेलगाड़ी की…

Read More
वास्तविक  संस्कृति

वास्तविक संस्कृति

शशांक और सिद्धार्थ ने पैर छूने की वास्तविक संस्कृति बताई। शशांक और सिद्धार्थ जुड़वा भाई लगभग ७ वर्ष के थे।…

Read More
श्रवण कुमार सा…

श्रवण कुमार सा…

क्या आजकल बच्चे श्रवण कुमार से होते हैं? अगर नहीं, तो उन्हें कैसे आदर और बड़ों की सेवा करना सिखाया…

Read More
रिंकू और चीकू की इंडिया की छुट्टियाँ

रिंकू और चीकू की इंडिया की छुट्टियाँ

रिंकू और चीकू की इंडिया की छुट्टियाँ उनके लिए यहाँ की सभ्यता सीखने का मौका थी। इस बार की गर्मियों…

Read More
सम्मान की रोटी की कीमत

सम्मान की रोटी की कीमत

बाबुराम जी सालों से सम्मान की रोटी के लिए तरस गए थे। उन्हे यह सम्मान सुमित और उसकी पत्नी से…

Read More
कल और आज का बचपन

कल और आज का बचपन

दादी माँ ने वैकुण्ठ को अपने बचपन के किस्से सुनाये, जो आज के बचपन से बहुत अलग थे। “दादी माँ…

Read More
अधूरे सपने

अधूरे सपने

बरखा ने घर की जिम्मेदारियाँ संभालने में अपने अधूरे सपने पूरे नहीं किए। उनके बेटे और बहू ने उनकी इच्छा…

Read More
परी रानी

परी रानी

अनुपम को परी रानी ने बड़ों का कहना मानना सिखाया।  First published in September 2016 छोटा सा अनुपम घर की…

Read More
नैतिक मूल्य

नैतिक मूल्य

अंजन ने प्रधानमंत्री को नैतिक मूल्य का महत्व समझाया।  अंजन पैदल चलता हुआ अपने घर पहुँचा, ताला खोला और अन्दर आया।…

Read More
Loading...