असंभव कुछ भी नहीं

असंभव कुछ भी नहीं

राघव के अध्यापक ने उसकी मदद करके सिखाया की लगन के आगे असंभव कुछ भी नहीं है। सब बच्चे आज…

Read More
पढ़ने का आत्मविश्वास

पढ़ने का आत्मविश्वास

कस्तूरबा मैम ने मिथिला में पढ़ने का आत्मविश्वास जगाया। एक समय की बात है, रावल नाम के शहर में, मिथिला…

Read More
मेरी हार

मेरी हार

आप सोचेंगे कि मुझे मेरी हार से खुशी क्यूँ मिल रही है? जानने के लिए आगे पढ़िये। दोपहर से शाम…

Read More
बालक शंकर

बालक शंकर

आइये, आठवीं सदी में एक गरीब ब्राह्मण परिवार में पैदा हुए बालक शंकर की कहानी सुनिए। आज एक अक्टूबर है।…

Read More
हैप्पी बर्थडे

हैप्पी बर्थडे

लेखक ने अपनी लगन से अपने पोते के लिए प्यानो पर  हैप्पी बर्थडे बजाना सीखा। बड़े लोगों को अक्सर यह…

Read More
छोटा कद

छोटा कद

सजल ने जान की छोटा कद किसी की महान काम करने से नहीं रोक सकता। “मधु मैम दूसरी कक्षा का…

Read More
छोटा जीनियस तुममें भी कही छिपा है

छोटा जीनियस तुममें भी कही छिपा है

आप सब में एक छोटा जीनियस छुपा है। बस उसे ढूंढने की देर है। महान वैज्ञानिक अल्बर्ट आइन्सटाइन ने कहा…

Read More
दिव्यांग की उड़ान

दिव्यांग की उड़ान

दिव्यांग लोगों को ईश्वर ने कुछ अलग शक्ति दी है। यही उनको उड़ने की शक्ति देती है।  First published in…

Read More
जादूई जूते – १०

जादूई जूते – १०

वेंकू, रुहिन, तनुष और आशीष ने जाना की जादुई जूते उनकी अपनी शक्ति का प्रतीक थे। प्रात: काल के अखबार…

Read More
अक्ल बड़ी या भैंस – २

अक्ल बड़ी या भैंस – २

रोहन को ‘अक्ल बड़ी या भैंस’ पर एक कहानी लिखनी थी। उसकी मम्मी शारदा ने उसकी मदद की। रोहन शारदा…

Read More
भ्रम तथा तथ्य

भ्रम तथा तथ्य

तन्वी घर से निकालने से पहले छींकी, इसलिए उसे लगा कि वह प्रतियोगिता हार गयी। उसकी माँ ने उसका भ्रम…

Read More
Loading...