एक दिवाली ऐसी भी

एक दिवाली ऐसी भी

  • March 1, 2018

ऋषिता अनाथ आश्रम जाकर बच्चों को भेंट देती है। वो सीखती है कि दिवाली ऐसे भी मनाई जा सकती है।    आज मम्मी जल्दी जल्दी तैयार हो रही थी। ऋषिता ये देख रही थी। उसके पूछने पर मम्मी ने बताया की…

Read more
गोनू की दीवाली स्वच्छता के साथ

गोनू की दीवाली स्वच्छता के साथ

  • October 1, 2017

गोनू दीवाली की तैयारी बहुत ज़ोरों-शोरों से कर रहा था। अभी दीवाली को आने में पूरे दस दिन बाक़ी थे पर वह पटाखे ख़रीदने में लगा हुआ था। उसने एक छोटी सी बंदूक़ भी ख़रीदी जिसमें वह पटाखे का रोल…

Read more
दीपक बिन दीवाली

दीपक बिन दीवाली

  • April 1, 2016

कार्तिक मास की अमावस्या आज कुछ अधिक ही काली लग रही थी। यध्यपि सब उसे प्रकाशवान बनाने का प्रयत्न कर रहे थे लेकिन अँधेरा था कि वह और घना और डरावना होता जा रहा था। कमरे का बंद दरवाजा और…

Read more
Reshuffle Of Laddoos

Reshuffle of laddoos

  • April 1, 2016

Diwali was very close and so Guddi was very happy. The school holidays had begun. She liked the festival of Diwali the most. She would get a new frock, would burst a lot of crackers and would get a lot…

Read more
मैंने सच में दीपावली मनाई

मैंने सच में दीपावली मनाई

  • April 1, 2016

आज दीपावली है। छोटा सा सुमित अपने घर की छत पर खड़ा है और आसमान की ओर देख रहा है। वह खुश है। असमान में रंग-बिरंगे पटाखे छूट रहे हैं। वह अपने बड़े भाई के साथ है। खुश होकर तालियाँ…

Read more
लड्डुओं की अदला-बदली

लड्डुओं की अदला-बदली

  • April 1, 2016

दिवाली का त्यौहार एकदम करीब था। गुड्डी बहुत खुश थी। स्कूल की छुट्टियाँ शुरू हो गईं थीं। दिवाली उसे सबसे ज़्यादा पसंद थी। नयी फ्रॉक मिलेगी, खूब पटाखे चलाएँगे, और खूब ढेर मिठाई खाने को मिलेगी। उसे खील, बताशे और…

Read more
Friendly Deepawali

Friendly Deepawali

Anni is now an intelligent seven year old child. One day while sitting among all his friends he started a discussion. “Why don’t we celebrate Deepawali in a special manner this year!” “In a special manner? How?” all his friends…

Read more
दोस्त दीपावली

दोस्त दीपावली

अन्नी सात साल का समझदार बच्चा हो गया है।  उसने अपनी मित्र मंडली से चर्चा की - क्यों ना हम इस बार दीपावली को विशेष तरीके से मनायें?  “विशेष तरीके से? कैसे?”, सभी मित्रों ने एक साथ पूछा।  तनवीर बोला,…

Read more
दिवाली की धूम

दिवाली की धूम

जगमग दिवाली आयी रे आयी, पटाखों का धूम धड़ाका लायी, चारों तरफ़ उजाला लेकर आयी, हम सभी में ख़ुशियों को लायी। मिठाइयों की सौगात साथ लायी, नये नये कपड़ों की बहार लायी, साथ में मस्ती ही मस्ती लायी, दिवाली आयी…

Read more
Loading...