The Story Of Two Soldiers

The story of two soldiers

  • January 1, 2018

Ayappa was running for his life. He needed to come first. Shyam Sunder was ahead of him. Ayappa stepped up the effort, putting his everything and began closing the gap. It was a close finish, Shyam Sunder missed by a…

Read more
असल जिंदगी का हीरो

असल जिंदगी का हीरो

  • August 1, 2017

छुट्टी का दिन था, सोसाइटी से सटे पार्क मे सब धूप का आनंद ले रहे थे। वयोवृद्ध कर्नल संग्राम सिंह (रिटायर्ड) पार्क में बैठने के लिए जगह की तलाश में इधर उधर देख रहे थे। तभी उनकी नजर कुछ नव…

Read more
विजय दिवस

विजय दिवस

  • December 1, 2016

विजय दिवस को मेरा प्रणाम, आपके सामने लाया हूँ पैग़ाम, कहना तो बहुत कुछ चाहता हूँ, पर वीरों की यादों में खो जाता हूँ, आँसू आ जाते है उनकी शहादत में, अपनी जान पर खेलकर, पड़ोसियों की रक्षा की हरदम,…

Read more
अतिथि देवो भवः

अतिथि देवो भवः

  • October 1, 2016

बात तब की है जब रफीक दस साल का था। उसने अपनी अम्मी से पूछा था, “अम्मी, अतिथि कौन होता है?” अम्मी ने कहा, “जो भी अपने घर मेहमान बनकर आता है वह अतिथि होता है” रफीक बड़ी सरलता से…

Read more
Kaalia

Kaalia

  • June 1, 2016

Not a single eye was dry. Everyone was weeping silently and there was pin drop silence in the mountains, even the wind had stopped blowing as he was lowered into his grave. Kaalia was no more. The guards lowered their…

Read more
दो सैनिकों की कहानी

दो सैनिकों की कहानी

  • April 1, 2016

अयप्पा पूरे जी जान से भाग रहा था। उसे प्रथम आना था। श्याम सुंदर उससे आगे था। अयप्पा ने अपना प्रयास तेज किया, जी जान लगाई और दोनों के बीच का अंतर कम होना शुरू हो गया। दौड़ का कठिन…

Read more
Loading...