संगत

संगत

  • April 1, 2019

चिराग पढ़ाई में लापरवाही दिखा रहा था। उसके दादाजी को समझ में आ गया कि यह उसकी संगत का असर है। गाज़ियाबाद के एक रिहायशी इलाके राजनगर में तीन घनिष्ठ मित्र रहते थे। आस-पास के लोग उन्हें शर्मा जी, वर्मा…

Read more
संगत भाग – 2

संगत भाग – 2

  • May 1, 2016

अब तक आपने पढ़ा - शर्मा जी का पोता चिराग पढ़ाई लिखाई में बिलकुल मन नहीं लगा रहा था। उसके सातवीं कक्षा में अर्धवार्षिक परीक्षा में फेल हो जाने के बाद, उसके दादाजी और उनके सबसे गहरे दो दोस्त, वर्मा…

Read more
Loading...