सही क्या है गलत क्या,

ये सब बताते हैं आप,

झूठ क्या है और सच क्या,

ये बात समझाते हैं आप।

जब सूझता नहीं कुछ भी,

राहों को सरल बनाते हैं आप,

जीवन के हर अंधेरे में,

रोशनी दिखाते हैं आप।

बंद हो जाते हैं जब सारे दरवाज़े,

नया रास्ता दिखाते हैं आप,

सिर्फ़ किताबी ज्ञान ही नहीं,

जीवन जीना सिखाते हैं आप।

Ojas Pungalia, Hindi poem, 11 to 13 years
Rate this post

Leave a Reply

Loading...