The Different Flower

The different flower

  • July 1, 2019

Kittu was a cotton flower. Young and lonely. He wanted to make friends. He looked around him in the garden. There were so many other flowers. Red roses, pink lilies, bright yellow sunflowers, colourful gerberas. He happily waved. But all…

Read more
The Human Touch – II

The Human Touch – II

  • July 1, 2019

My experiences with the truth of human behaviour during the fall season were subsiding gradually and I had started looking at the world around me once again though from a lower pedestal but was happy to be alive once again. …

Read more
स्वर्ग नर्क

स्वर्ग नर्क

  • July 1, 2019

आज नर्क के अन्दर एक बवाल-सा मचा हुआ था। चारों ओर धरना प्रदर्शन, नारेबाजी, शोर और अराजकता का बोलबाला था। यह देखकर यमराज वहाँ स्वयं पधारे और उन्होंने इसका कारण जानना चाहा। पता चला कि ढेर सारे लोगों को यह…

Read more
गुच्छे की कीमत

गुच्छे की कीमत

  • July 1, 2019

“ये अंगूर कितने के हैं?” एक अंकलजी पूछ रहे थे। “सौ रुपये का एक गुच्छा है, साहब!” दुकानदार ने जवाब दिया। “बहुत महँगे दे रहे हो! पर फल हैं बढ़िया”। अंकलजी की बात सुनकर दुकानदार ने गर्व से अपनी टोकरी…

Read more
परी रानी

परी रानी

  • July 1, 2019

अनुपम को परी रानी ने बड़ों का कहना मानना सिखाया।  First published in September 2016 छोटा सा अनुपम घर की छत पर खेल रहा था। शाम का समय था। तभी आकाश से उतरकर एक परी उसके पास आई। वह उसे…

Read more
अहंकार भी सिखाता है

अहंकार भी सिखाता है

  • June 1, 2019

(कहानी के सन्दर्भ में - अहंकार स्वयं पैदा नहीं होता। अनजाने में,  साधारण सी जिंदगी में, अहंकार का जन्म अनुचित आशाओं एवं अनुचित वातावरण से होता है।) राजस तीन बहनों के बाद पैदा हुआ चौथा भाई था। बड़ा लाड़-प्यार मिला।…

Read more
अच्छा व्यवहार

अच्छा व्यवहार

  • June 1, 2019

आनंद ने सीखा की अच्छा व्यवहार क्यूँ ज़रूरी है। आनंद एक बहुत ही शरारती बच्चा था। वह कभी भी किसी की कही बात नहीं सुनता था। सबसे लड़ना जगड़ना उसकी आदत थी। जो भी उसे समझाने की कोशिश करता वो…

Read more
दिव्य

दिव्य

  • June 1, 2019

स्कूल के बाद जब बच्चे कॉलेज में जाते हैं तो ये किसी चमत्कार से कम नहीं लगता। जैसे बहुत बड़े रंगमंच पर पैर रख रहे हो, बहुत सारे सपने आँखों में होते हैं, बहुत कुछ कर गुजरने की भावना होती…

Read more
मनमानी

मनमानी

  • June 1, 2019

आदित्य बिस्तर पर उल्टा लेटा हुआ सुबक-सुबक कर रो रहा था। तभी दादा जी शाम की सैर करने अपने कमरे से निकले। आदित्य के रोने की आवाज़ सुनकर वे इधर चले आए। बोले, “अरे आदित्य! आज खेलने नहीं जाना? पार्क…

Read more
Mintu’s Mid-night Adventure

Mintu’s mid-night adventure

  • June 1, 2019

Mintu’s mother had to go on an official trip to London. She left Mintu at her sister’s place. Mintu was a shy boy. He did not open up easily to all. Mintu’s aunt was very loving and caring, but Mintu…

Read more
Loading...