सडकों पर जंगल

सडकों पर जंगल

  • December 1, 2016

ज़िप – ज़ैप – ज़ू नव्या सड़क पार करने की कोशिश कर रही थी। लेकिन बस, कार, मोटरसाइकिल और बहुत से अन्य वाहन सड़क पर तेजी से आ जा रहे थे। वह लगातार बाएँ से दाएँ और फिर से बाएँ…

Read more
आपको क्या परेशानी है?

आपको क्या परेशानी है?

  • December 1, 2016

सुश्री निधि झा ने दिल्ली विश्वविद्यालय से सामाजिक कार्य में मास्टर की डिग्री प्राप्त की है। उन्हें विकास के मुद्दों में बच्चों के साथ काम करने का १२ साल से अधिक अनुभव है। उन्हें भारत और विदेश में किशोर बच्चों…

Read more
आर्यभट्ट

आर्यभट्ट

  • December 1, 2016

रोहन अपने ज्यामिती के पाठों के साथ संघर्षरत था और वह अपने सूत्रों और मापों को सुधारने का प्रयास कर रहा था। उसकी माँ उसकी सहायता के लिए उसके कमरे में आयी। रोहन बोला, “यह थोड़ा पेचीदा है परंतु रोचक…

Read more
मज़ा गणित का – वर्णों में छिपे अंकों को ढूँढिये

मज़ा गणित का – वर्णों में छिपे अंकों को ढूँढिये

  • December 1, 2016

नीचे दिए गए प्रश्न को देखिए। यहाँ एक ५ अंकों की संख्या दी गई है। जब ४ से उसका गुणा किया जाता है तो जो जवाब आता है, उसमें वही अंक हैं, जिनको सिर्फ विपरीत क्रम में लिख दिया गया…

Read more
A Mouse In The House

A mouse in the house

  • December 1, 2016

I have this great fear of creepy crawlies, lizards and mice. They make me feel all icky and weird but our dogs love them for some strange reason. Over the years, our dogs have gained an adept vocabulary and are…

Read more
When Tashi Ate Santa

When Tashi ate Santa

In the Kumar household all festivals are celebrated with much delight and festivity. They believe that every festival is of importance and therefore their children have been brought up understanding the reasons for such celebrations and the history behind them…

Read more
उत्कृष्ट दान

उत्कृष्ट दान

  • December 1, 2016

सुधा देवी की उम्र के साथ-साथ उनकी परेशानियाँ भी बढ़ती जा रही थीं। यूँ तो वे सिर्फ पैसे से ही नहीं, किस्मत से भी धनी थीं। साथ ही वे बड़ी दानी प्रवृत्ति की थीं। सारी जिन्दगी उन्होंने और उनके पति…

Read more
विजय दिवस

विजय दिवस

  • December 1, 2016

विजय दिवस को मेरा प्रणाम, आपके सामने लाया हूँ पैग़ाम, कहना तो बहुत कुछ चाहता हूँ, पर वीरों की यादों में खो जाता हूँ, आँसू आ जाते है उनकी शहादत में, अपनी जान पर खेलकर, पड़ोसियों की रक्षा की हरदम,…

Read more
Loading...