एक पति-पत्नी बहुत साल शादी के बाद भी माता-पिता नहीं बन सके। दोनों को ही बच्चे बहुत प्यारे लगते थे। चिकित्सक आदि से सलाह-संपर्क कर भी फल नहीं मिला। अब उन्होंने सोचा – क्या फर्क पड़ता है? क्यों ना हम…

Want to read this? Sign in or register for free.

      Register for free

हीरा पुत्र
Average rating of 3 from 2 votes

Loading...