पुष्प वन में हजारों-हजार की संख्या में रंग-बिरंगे फूल अपनी मनोहारी छटा बिखरते हुए खिले रहते। उनकी खुशबू दूर-दूर तक फैली रहती। सुबह होते ही उन फूलों पर हजारों की तादाद में भौंरे और कीट-पतंगें आकर मंडराने लगते। बीच-बीच में…

Want to read this? Sign in or subscribe.

      Subscribe

भला करो खूब फलो
Average rating of 5 from 1 vote

Loading...