रौनक़ उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ जिले में अपने मम्मी-पापा के साथ रहता था। उसके पापा, जिनका नाम रज़ा था, चूड़ियों की दुकान चलाते थे। उनकी दुकान पर हर जाति के लोग आते थे। कई-कई तो बहुत सालों से दुकान पर…

Want to read this? Sign in or register for free.

      Register for free

ईद-मुबारक
Average rating of 5 from 1 vote

Loading...