आप अपनी परेशानी का हल हमारे बच्चों की विशेषज्ञके से पूछ सकते हैं। प्रश्न पूछने वाले का नाम गुप्त रखा जाएगा।  


आपको क्या परेशानी है?प्रश्न:

मेरे पिता को दक्षिण अफ्रीका में नौकरी मिली है और वह अगले महीने नौकरी शुरू करने वहाँ जाने की योजना बना रहे हैं। वह कहते हैं कि पहले वे वहाँ पर घर लेंगे, सब व्यवस्था करेंगे, फिर हमें बुलाएंगे। तब तक मेरी बहन, मेरा भाई, मैं और मेरी माँ यहीं रहेंगे। मैं कभी अपने पिता से दूर नहीं रही हूँ और न ही मेरा परिवार। मैंने अपने पिता से जानने की कोशिश की कि उन्होंने अचानक अपना काम क्यों छोड़ दिया और क्यों दूसरे देश जाने का फैसला ले लिया लेकिन मुझे कोई उत्तर नहीं मिला। मैं भविष्य के बारे में सोच कर परेशान हूँ।

उत्तर:

प्रिय मित्र,
परिवर्तन कभी आसान नहीं होता। लेकिन यह जीवन का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है। जीवन में कुछ भी स्थायी नहीं है। चाहे घर हो, नौकरी हो या देश। अपने देश को छोड़ना और दूसरे देश में बसना एक बड़ा कदम है और यह आसान नहीं है। लेकिन, अगर आपके माता-पिता ने यह योजना बनाई है, तो यह निश्चित रूप से आप सभी के सर्वोत्तम हित के लिए होगी। बहुत चिंता न करें। विशवास रखें। समय के साथ सब ठीक हो जाएगा।
जब तक आप यहाँ हैं, अपने समय का अच्छा उपयोग करें। अपनी माँ और भाई-बहन का ख्याल रखें और एक नया देश देखने और जानने के लिए खुश और उत्साहित रहें। आप दक्षिण अफ्रीका और आपके पिता के काम करने के स्थान के बारे में गूगल (Google) पर जान सकते हैं। यह देखना रुचिकर होगा कि नई जगह पर क्या-क्या है। सकारात्मक रहें और सब कुछ अच्छा होगा।


आपको क्या परेशानी है?प्रश्न:

मेरे पिता एक पूर्व रक्षा-अधिकारी हैं। मैंने उस जीवन का अनुभव किया है और मुझे वो जीवन पसंद है। मैं खुद को किसी अन्य जीवन जीते हुए नहीं देख सकता और रक्षा के अलावा कोई भी अन्य नौकरी नहीं कर सकता। मैं सच में रक्षा-बल में रहना चाहता हूँ। यदि ऐसा नहीं होता है तो मुझे चिंता है, कि मैं अवसाद ग्रस्त हो सकता हूँ। मेरे माता-पिता मेरे फैसले के बारे में खुश हैं लेकिन वे मुझे जीविका के अन्य विकल्पों को देखने और कुछ अलग-अलग कौशल सीखने के लिए भी कहते हैं ताकि यदि मैं इस क्षेत्र में असफल होता हूँ तो मैं एक अलग आजीविका की कोशिश कर सकूँ । किन्तु मैं ऐसा कुछ भी नहीं करना चाहता हूँ।

उत्तर:

प्रिय मित्र,
आपके शब्द बताते हैं कि आपमें रक्षा अधिकारी बनने का जोश है। क्योंकि आपके पिता इसी कार्य में रहें हैं, इसलिए वे आपके मुँह से यह बात सुनकर अत्यंत ही प्रसन्न होंगे। अपनी महत्वाकांक्षा को अपना जुनून बनाना बहुत अच्छा है, लेकिन इसके बारे में कभी भ्रमित नहीं होना चाहिए। जीवन में कई और भी अच्छे विकल्प हैं जिनके बारे में इस समय आप सोच भी नहीं सकते। अन्य आजीविका के विकल्पों के बारे में जानने से आपको आसानी होगी। जहाँ एक तरफ आप अपनी पसंद के कार्य को चुनने का १००% प्रयत्न कर सकते हैं, वहीं दूसरी ओर दिमाग खुला रखना भी महत्वपूर्ण है ताकि आप बाद में अवसाद ग्रस्त न हों। जीवन में अद्भुत विकल्प हैं। आपके माता-पिता सिर्फ चाहते हैं कि आप एक और कौशल सीख लें और भविष्य के लिए इसे रखें। इसके बारे में एक खुले दिमाग से सोचें और अन्य कौशल की तरफ भी ध्यान दें जो आपको रुचिकर हों। दूसरी तरफ आप अपने लक्ष्य की तरफ भी बढ़ने का प्रयत्न करते रहें। शुभकामनाएं!


सुश्री निधि झा ने दिल्ली विश्वविद्यालय से सामाजिक कार्य में मास्टर की डिग्री प्राप्त की है। उन्हें विकास के मुद्दों में बच्चों के साथ काम करने का १२ साल से अधिक अनुभव है। उन्हें भारत और विदेश में किशोर बच्चों को परामर्श देने का लम्बा अनुभव है। उन्होने यूनाइटेड किंगडम में जरूरतमंद बच्चों के लिए सरकार के साथ काम किया है। वह बच्चों और किशोरों के लिए व्यक्तित्व वृद्धि कार्यशालाओं का आयोजन भी करती हैं।

अगर आप हमारे विशेषज्ञ से कोई सवाल पूछना चाहते हैं, तो हमें इस पते पर लिखिए: content@neevmagazine.co.in। प्रश्न पूछने वाले का नाम गुप्त रखा जाएगा। 

आपको क्या परेशानी है?
Average rating of 5 from 1 vote

Leave a Reply

Loading...