सुश्री निधि झा ने दिल्ली विश्वविद्यालय से सामाजिक कार्य में मास्टर की डिग्री प्राप्त की है। उन्हें विकास के मुद्दों में बच्चों के साथ काम करने का १२ साल से अधिक अनुभव है। उन्हें भारत और विदेश में किशोर बच्चों को परामर्श देने का लम्बा अनुभव है। उन्होने यूनाइटेड किंगडम में जरूरतमंद बच्चों के लिए सरकार के साथ काम किया है। वह बच्चों और किशोरों के लिए व्यक्तित्व वृद्धि कार्यशालाओं का आयोजन भी करती हैं।

अगर आप हमारे विशेषज्ञ से कोई सवाल पूछना चाहते हैं, तो हमें इस पते पर लिखिए: content@neevmagazine.co.in। प्रश्न पूछने वाले का नाम गुप्त रखा जाएगा। 


प्रश्न:

मेरा रंग सांवला है। मेरा जन्म यहीं ब्रिटेन में हुआ था। मेरे माता-पिता भारत से हैं। मेरे अधिकाँश सहपाठी गोरे ब्रिटिश हैं। मेरी कक्षा में मेरे बहुत कम मित्र हैं। मुझे अलगाव और अकेलापन महसूस होता है। वे मुझे गोरिल्ला और ब्लैकी जैसे नामों से बुलाते हैं। मैं निराश हूं और मुझे अपने आप से नफरत है। मुझे स्कूल जाना अच्छा नहीं लगता, लेकिन स्कूल न जाने के लिए मुझे हर बार अपने माता पिता से डांट पड़ती है। मुझे समझ नहीं आता कि मैं क्या करूँ।

उत्तर:

प्रिय मित्र

आप एक विशिष्ट व्यक्ति हैं, भगवान की एक अनूठी रचना; अपने विशिष्ट गुण, योग्यता, क्षमता और ताकत के साथ संपन्न हैं। दूसरों से सराहना की उम्मीद करने से पहले अपने आप को प्यार करना बहुत महत्वपूर्ण है। यदि आप चाहते हैं कि अन्य लोग आपको स्वीकार करें, आप की सराहना करें और आपको पसंद करें तो पहले आप अपने आप से खुश रहें और आत्मविश्वास से परिपूर्ण हों। कभी अपनी त्वचा के रंग या अपनी पृष्ठभूमि को लेकर अपने आप को तुच्छ न समझें, क्योंकि इनमें से कुछ भी आपके व्यक्तित्व या आपके गुणों को निर्धारित नहीं कर सकता। याद रखें कि, लोग अपने कर्म, उपलब्धियों और समाज में उनके योगदान के लिए जाने जाते हैं न कि अपनी त्वचा के रंग और पृष्ठभूमि के लिए।

तो, खुद से वादा करें कि इस बात को अपने मन से निकाल देंगे और आत्म सुधार की दिशा में काम करेंगे। स्कूल से बचना किसी परिस्थिति से दूर भागने जैसा है और मैं बहुत यकीन के साथ कह सकती हूँ कि आप कायर नहीं हैं। समस्या का बहादुरी के साथ सामना करें और मुझे यकीन है कि आप एक विजेता बन कर निकलेंगे।

आपके सहपाठियों को आपको स्वीकार करने में कुछ समय लग सकता है क्योंकि हम सभी यह जानते हैं कि दुर्भाग्यवश हमारा समाज भूरे रंग की त्वचा के प्रति पक्षपाती है। लेकिन आपको निराश होने की जरूरत नहीं है। अपने और दूसरों के लिए एक सही दृष्टिकोण बनाकर आप मित्र बना सकते हैं। सहायक और हंसमुख बने रहने की कोशिश करें। मेहनत से पढ़ाई करें और अच्छा प्रदर्शन करें जिससे कि आप अपनी कक्षा में होनहार और सक्षम छात्र के रूप में जाने जाएं। कम मित्र बनाएं लेकिन अच्छे और सभ्य लोगों का चयन करें। बुरे छात्रों द्वारा की गई टीका टिप्पणी को अनसुना करें और उन लोगों से दूरी बनाएं। यदि बात ज़्यादा बढ़ जाए, तो किसी बड़े, जैसे कि अपने शिक्षक या किसी बड़े मित्र से बात करें और इस बात की सूचना देने के लिए उनकी सलाह लें।

मुझे आशा है कि यह मददगार होगा। मुस्कुराते रहें। चीयर्स!


प्रश्न:

मुझे अपनी कक्षा में एक लड़की पसंद है। वह बहुत सुन्दर है। लेकिन वह कभी मुझसे बात नहीं करती। मैंने उससे बात करने की कोशिश की है लेकिन वह ध्यान नहीं देती। इसके बजाय वह हमेशा दूसरे लड़कों से घिरी रहती है। वह लड़के बुरे और बदनाम हैं। मैं उन लड़कों को मारना चाहता हूँ और उस लड़की को बताना चाहता हूँ कि मैं उसे पसंद करता हूँ। क्या करूं?

उत्तर:

मेरे प्यारे मित्र

किसी को पसंद करना गलत नहीं है। लेकिन जब हम एक विपरीत लिंग के व्यक्ति की ओर आकर्षित होते हैं, जो कि इस उम्र में बहुत ही स्वाभाविक है, तो हमें इस भावना की अभिव्यक्ति में बहुत सावधान रहने की जरूरत है। जैसा कि आपने बताया है, कि आपने उससे बात करने की कोशिश की है लेकिन उसने ध्यान नहीं दिया। मुझे नहीं लगता कि यह सही समय होगा कि आप उसको अपनी भावनाएं बताएं। मित्रतापूर्ण व्यवहार करें और शालीनता बनाए रखने का प्रयास करें।

उन लडकों को मारने के बारे में सोचें भी नहीं क्योंकि यह मामले को बदतर कर देगा। अगर वह लड़की बुद्धिमान है, तो अंततः उसे एहसास हो जाएगा कि कौन उसकी दोस्ती के लायक है। उन लड़कों के बारे में ज्यादा नहीं सोचें। एक ईमानदार मित्र बनने की कोशिश करें और उस लड़की को तय करने दें कि वो किस दिशा में जाना चाहती है। याद रखें, कि वह कोई लड़ाई नहीं है जिसे आपको जीतना है। आपसी पसंद आप के लिए एक आदर्श स्थिति होगी। अगर ऐसा होता है, तो अच्छा है, लेकिन यदि ऐसा नहीं होता, तो हालात को इतना कठिन न मानें। इस दुनिया में कुछ भी स्थाई नहीं है। अपनी अच्छाईयों की सराहना करें और आगे बढें।

शुभकामनाएं!

अंग्रेज़ी में पढे

आपको क्या परेशानी है?
Average rating of 5 from 1 vote

Leave a Reply

Loading...